मुख्यमंत्री बनते ही बिप्लब देव ने दिखाया अपना ये रूप !

त्रिपुरा की जनता ने बीजेपी को ऐतिहासिक समर्थन दिया तो साफ़ जाहिर हो गया कि देश की जनता में पीएम मोदी के प्रति विश्वास आज भी बरक़रार है. त्रिपुरा, मेघालय, नागालैंड जैसे राज्यों के चुनाव नतीजे जब से आये हैं तब से बीजेपी समर्थक काफी उत्साहित हैं और हों भी क्यों ना, क्योंकि त्रिपुरा में लगभग 25 सालों से लेफ्ट की सरकार थी, ऐसे में वहां की जनता ने भाजपा को कमान सौंपकर एक इतिहास रच दिया है. इस जीत के बाद बिप्लब देव को त्रिपुरा का मुख्यमंत्री बनाया गया. 9 मार्च को उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. मुख्यमंत्री बने हुए उन्हें ज्यादा दिन नहीं हुए थे कि उन्होंने जनता की समस्याओं को दूर करने के लिए कुछ ऐसा कहा कि जो जनता के हित में तो है ही लेकिन विरोधियों के लिए परेशानी का सबब है.

Source

त्रिपुरा के बेरोजगार लोगों के लिए

जनसत्ता के मुताबिक  25 सालों से त्रिपुरा में वामपंथियों की सरकार थी लेकिन अब जनता का उनसे मोहभंग हो गया है और उन्होंने अपने राज्य की कमान बीजेपी को दे दी है. 25 वर्षीय बिप्लब देव मुख्यमंत्री बने हैं तो वो त्रिपुरा के बेरोजगार लोगों के लिए बड़ा कदम उठाने जा रहे हैं, जो अपने आप में एक मिसाल होगी.

बिप्लब देव, मुख्यमंत्री, त्रिपुरा

राज्य में फैली बेरोजगारी को दूर करने के लिए..

बता दें कि मुख्यमंत्री बनने के बाद बिप्लब देव ने ऐलान किया है कि वो राज्य में फैली बेरोजगारी को दूर करने के लिए युद्ध स्तर पर काम करेंगे. उन्होंने दावा किया है कि 30 महीनों के अंदर उनकी सरकार सात लाख नौकरियां पैदा करेगी. जिसका मतलब ये हुआ कि हर रोज तकरीबन 778 लोगों को नौकरी देंगे. इसको लेकर बिप्लब देव तेजी से काम कर रहे हैं.

Source

इसको लेकर त्रिपुरा के मुख्यमंत्री

बीते कुछ दिनों में 15 मंत्रियों से मिल चुके हैं. इस दौरान उन्हें एक हजार करोड़ रुपए राज्य के लिए मिल भी चुके हैं. उनका कहना है कि उन्हें उम्मीद है कि वो ढाई साल के भीतर सात लाख बेरोजगार लोगों को नौकरियां मुहैया करा सकेंगे.

अगरतला, एअरपोर्ट

त्रिपुरा के राजा के सम्मान में बीजेपी करने जा रही है ये काम

बिप्लब देव ने ये भी कहा कि “चुनाव प्रचार के दौरान हमने लोगों से वादा किया था कि अगर हमारी सरकार बनी तो अगरतला एयरपोर्ट का नाम बदलकर उसे बीर बिक्रम किशोर माणिक्य के नाम से जाना जाएगा और हम ऐसा त्रिपुरा के महान राजा के सम्मान में करने जा रहे हैं.”