कश्मीर में ‘इन महिलाओं’ को लेकर सामने आई हैरान कर देने वाली रिपोर्ट !

0
2041

कश्मीर के हालात को नियंत्रित करने के लिए मोदी सरकार हरसंभव कदम उठा रही है जिसके चलते अभी हाल ही में J&K सरकार में पीडीपी से गठबंधन भी तोड़ लिया है. अब वहां राज्यपाल शासन है, ऐसे में वहां सेना अब मजबूती से कार्रवाई कर पायेगी. सेना के हाथ खुले होने से वहां के पत्थरबाज़ों और आतंकियों को मदद देने वालों में खलबली मच गयी है. माना जा रहा है कि अब उनकी हर कोशिश नाकाम होने वाली है जिनसे कश्मीर में शांति भंग होने का खतरा बना रहता था.

कश्मीर में अक्सर आतंकियों को बचाने के लिए सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी होती रहती है (फोटो सोर्स)

इस बीच ख़ुफ़िया एजेंसियों द्वारा गृह मंत्रालय को पेश की गयी एक रिपोर्ट में ऐसा खुलासा हुआ है जो हैरान कर देने वाला है. दरअसल कश्मीर के युवाओं को भड़काने के लिए आतंकी सरगना और कट्टरपंथी विचारधारा के लोग भड़काऊ भाषण तो देते ही थे लेकिन अब जो रिपोर्ट सामने आई है उसमें महिलाओं के प्रयोग की भी बात कही जा रही है.

आजतक की वेबसाइट के मुताबिक खुफियां एजेंसियों को घाटी में एक ऐसे ग्रुप का पता चला है जो महिलाओं का है. महिलाओं का यह ग्रुप आतंकी संगठन ISIS से जुड़ा हुआ है और उसकी विचारधारा का प्रचार कर रहा है.

कश्मीर में ये महिलाएं ISIS की विचारधारा का प्रचार कर युवाओं को भड़काने काम करती हैं (फोटो सोर्स)

गृह मंत्रालय को मिली ख़ुफ़िया जानकारी के मुताबिक ‘दौलत-उल-इस्लाम’ नाम का यह ग्रुप महिलाओं का है, और कश्मीर की घाटी में काफी सक्रिय है. इस ग्रुप में शामिल महिलाएं अलग-अलग इलाकों में जाकर ISIS की विचारधारा का प्रचार करती हैं.

इस ख़ुफ़िया जानकारी के बाद गृह मंत्रालय हरकत में है (फोटो सोर्स)

फरवरी में दिखी थीं महिलाएं

इसी साल फरवरी में जब अनंतनाग में आतंकी ईसा फाजली की मौत हुई थी तो इस कुछ महिलाओं को उसके घर जाकर भड़काऊ भाषण देते हुए देखा गया था. बता दें कि इस जानकारी पर गृह मंत्रालय काफी गंभीर है और गुपचुप तरीके से अपनी कार्रवाई में लगी हुई है.

एक सवाल आपके लिए:

मोदी सरकार जिस तरीके से कश्मीर में आतंकियों की नस ढीली किये हुए हैं उससे आप संतुष्ट हैं ?